नहीं रे हमारे देश के जांबाज जनरल बिपिन रावत (CDS)

जनरल बिपिन रावत(PVSM, UYSM, AVSM, YSM, SM, VSM, ADC)

( 16 मार्च 1958- 8 दिसंबर 2023)

बिपिन रावत कौन थे ?

बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च 1958  को देहरादून में हुआ. बिपिन रावत के पिताजी एल एस रावत भी फ़ौज में थे और उन्हें लेफ्टिनेंट जनरल एलएस रावत के नाम से पहचाना जाता था. इनका बचपन फौजियों के बीच ही बीता और इनकी शुरूआती पढाई सेंट एडवर्ड स्कुल शिमला में हुई. उसके बाद उन्होंने इंडियन मिलट्री एकेडमी में एडमिशन लिया और देहरादून चले आये. यहाँ उनकी परफोर्मेंस को देखते हुए उन्हें पहला सम्मान पत्र मिला जो SWORD OF HONOUR से सम्मानित किया गया था. उसके बाद उन्होंने अमेरिका में पढाई करने का मन बनाया और वो अमेरिका चले गये यहाँ उन्होंने सर्विस स्टाफ कॉलेज में ग्रेजुएट किया. साथ में उन्होंने हाई कमांड कोर्स भी किया.

भारतीय आर्मी में शामिल बिपिन रावत

आर्मी ज्वाइन कब की 16 दिसंबर 1978 पहली जोइनिंग गोरखा बटालियन 5

देश के पहले CDS अधिकारी बने बिपिन रावत

सेना प्रमुख से इस्तीफा 31 दिसंबर 2019 पहले CDS अधिकारी 1 जनवरी 2020 को कार्य संभाला

बिपिन रावत के सुविचार

पद कोई भी हो, उसे सही तरीके से निभाने के लिए टीम वर्क बहुत जरूरी है. उन देशभक्तों की बराबरी हम नहीं कर सकते जो सियाचिन की ठंड में देश की सेवा करते हैं. देश की सुरक्षा के लिए हम अकेले कुछ नहीं करते, हमारा हर एक सैनिक इसमें भागीदार होता है. इतना ही नहीं देश का हर एक नागरिक देश के लिए कुछ ना कुछ तो जरुर करता है.

सेना में मिले है अनेक पुरस्कार

परम विशिष्ट सेवा पदक उत्तम युद्ध सेवा पदक अति विशिष्ट सेवा पदक युद्ध सेवा पदक सेना पदक विशिष्ट सेवा पदक