दलाल स्ट्रीट में खून की होली, जानिये निफ्टी और सेंसेक्स को लहूलुहान करने वाले चार फैक्टर्स

कोविड -19 के तेजी से फैलने वाले इस वैरिएंट ने निवेशकों को डराना जारी रखा क्योंकि यूरोप के अधिकांश देश इसको नियंत्रित करने के लिए परेशान रहे।

ओमीक्रॉन के बढ़ने की चिंता

ग्लोबल स्पिलऑफ

अमेरिकी इंडेक्स फेड द्वारा बुधवार को मुद्रास्फीति से लड़ने के लिए 2023 के अंत तक तीन बार ब्याज दरों में बढ़ोतरी के संकेत के बाद गिरावट के साथ बंद हुए।

केंद्रीय बैंकों की सख्त नीति

वैश्विक स्तर पर केंद्रीय बैंकों के कठोर रुख ने भी एशिया में इक्विटी बाजारों पर असर डाला है।

विकसित बाजारों में केंद्रीय बैंकों द्वारा नीतियों को सख्त करने के परिणामस्वरूप भारत और अन्य उभरते बाजारों में एफआईआई द्वारा बेरोकटोक और लगातार बिकवाली देखने को मिली है।

FII की लगातार बिकवाली

अगर आप भी शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहते है तो निचे आपको सबसे बेस्ट एप्लीकेशन Upstox का लिंक दिया है, उसपे क्लिक करे और अपना डीमैट अकाउंट तुरंत खोलें।